National Recruitment Agency (NRA)

जैसा कि हम सबको विदित हैं कि वर्तमान समय में रोजगार के चयन प्रक्रिया के लिए विभिन्न- विभिन्न विभागों के लिए विभिन्न- विभिन्न एजेंसियों द्वारा समय-समय पर विभागों की आवश्यकता के अनुसार अभ्यर्थियों का चयन किया जाता था। कुछ के द्वारा यह प्रक्रिया ऑनलाइन और कुछ के द्वारा यह प्रक्रिया ऑफलाइन की जाती थी। अलग-अलग एजेंसियों के चयन प्रक्रिया के दौरान अभ्यर्थियों को परीक्षा के लिए दूर-दूर जाना, बार-बार परीक्षा के लिए आवेदन करना, फीस भरना होता था. इसके लिए समय-समय पर पैसे और आने जाने की व्यवस्था अभ्यर्थियों को करनी पड़ती थी और इन सब में अभ्यर्थियों को मानसिक, शारीरिक, आर्थिक कष्टों का भी सामना करना पड़ता था। परंतु इन सब समस्याओं का हल करने के लिए सरकार ने एक नई एजेंसी की स्थापना की है। जिसका नाम है। राष्ट्रीय भर्ती संस्था (National Recruitment Agency) NRA.

क्या है National Recruitment Agency

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 19 अगस्त 2020 को राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी यानी (NRA) के गठन को मंजूरी दी है. सबसे पहले इसका प्रस्ताव वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट में संयुक्त परीक्षा करने का ऐलान किया था। "उन्होंने कहा था कि गैर राजपत्रित सरकारी पदों और सरकारी बैंकों के भर्ती के लिए एक ही ऑनलाइन परीक्षा होगी राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी जो एक स्वायत्तता संस्थान की तरह काम करेगी. इस एजेंसी के अध्यक्ष सचिव स्तर का अधिकारी होगा। इसके संचालक निकाय में रेलवे मंत्रालय, वित्त मंत्रालय, वित्त सेवा विभाग, एसएससी, आरआरबी तथा आईबीपीएस के प्रतिनिधि शामिल होंगे। यह अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी से युक्त एक विशेषज्ञ निकाय होगा।" केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्र सरकारी क्षेत्र के बैंकों के सभी राजपत्रित पदों पर भर्ती के लिए प्रस्तावित कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट करने के लिए एक राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के गठन के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।
जैसा कि हम सब जानते हैं। आज के समय में केंद्र सरकार में लगभग 20 से अधिक एजेंसियां है। जो परीक्षा का आयोजन करती है। परन्तु फिलहाल सरकार ने (NRA) के तहत एसएससी, आरआरबी, आईबीपीएस को मर्ज किया है। और भविष्य में अन्य एजेंसियों को शामिल करने की भी संभावना हो सकती है।

CET क्या है

यह एक कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट है। इसका आयोजन NRA नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी द्वारा किया जाएगा। इसके तहत आरआरबी, एसएससी, आईबीपीएस द्वारा अपने विभाग के गैर तकनीकी पदों के लिए जो भर्ती की जाती थी अब NRA के द्वारा उन तीनों को मिलाकर एक साथ की जाएगी।

NRA की आवश्यकता क्यों?

चलते समय में जो भी परीक्षाएं कराई जा रही है। वह अलग-अलग एजेंसियों द्वारा कराई जा रही थी। इसमें अभ्यर्थियों और सरकार को तमाम समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था। जैसा अभ्यर्थियों को परीक्षा देने के लिए दूर-दूर जाना, वहां रहने खाने की व्यवस्था करना, वहां जाने के लिए यातायात के साधनों की व्यवस्था करना, अलग-अलग एजेंसियों द्वारा कराए गए परीक्षाओं के लिए अलग-अलग परीक्षा फीस को देना और इन सब के के बीच व्यय की व्यवस्था करना. इसी में सरकार के लिए भी कई समस्याएं थी। अभ्यर्थियों के लिए सुरक्षा व्यवस्था। एजेंसियों द्वारा परीक्षा केंद्र की व्यवस्था। साधनों की पूर्ति आदि। इन सब समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए चाहे वह सरकार की हो या अभ्यार्थियों की के समाधान के लिए सरकार द्वारा(NRA) का गठन किया गया है।

NRA,CET की विशेषता

* एक अभ्यर्थी के लिए एक बार परीक्षा देने पर कई पदों के विकल्प रहेंगे।
* NRA वर्ष में दो बार ऑनलाइन माध्यम से CET आयोजित कराएगा।
* अभ्यार्थियों को अलग-अलग फॉर्म भरने के स्थान पर एक आवेदन करना पड़ेगा!
* अभ्यर्थियों का रोल नंबर, पंजीकरण, एडमिट कार्ड, अंक प्रमाण पत्र, मेरिट सूची आदि ऑनलाइन माध्यम से प्रदान की जाएगी।
* CET 12 भाषा में उपलब्ध होगी।
* CET के लिए लगभग हर जिले में एक परीक्षा केंद्र उपलब्ध होगा! जिससे अभ्यर्थियों को परीक्षा देने के लिए लंबा सफर तय नहीं करना पड़ेगा। और असमर्थ व्यक्तियों, दिव्यांग, महिलाओं के लिए यह एक अच्छा साधन कारगर होगा।
* NRA द्वारा गैर तकनीकी पदों के लिए स्नातक उच्च माध्यमिक 12वीं और मैट्रिक 10वीं पास उम्मीदवारों के लिए अलग से सीईटी का संचालन किया जाएगा जिसके लिए वर्तमान समय में एसएससी, आरआरबी, आईबीपीएस के द्वारा भर्ती की जाती थी।

Share this post on your social media ...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *